ब्लू पिक्चर सेक्स ब्लू

മലയാളം സെക്സ് സ്റ്റോറി

മലയാളം സെക്സ് സ്റ്റോറി, काफी देर उसी तरह खड़े खड़े गाण्ड मारने के बाद देवा जब बिंदिया की गाण्ड में पानी निकाल के अपना लंड बाहर निकालता है। तब बिंदिया थकान की वजह से और गाण्ड के दर्द की वजह से निचे बैठ जाती है। वो धीरे धीरे अपनी बात देवा को समझा देती है और देवा रुक्मणी की बात सुनकर हवेली से तेज़ क़दमों के साथ बाहर निकल जाता है।

रामु;मगर यार कल रात की बात सोच सोच के शर्म भी आ रही है नूतन के सामने जाने को और पता नहीं अजीब सा लग रहा है। रत्ना को महसूस होता है की देवा का पानी छुटने वाला है वो थोड़ा पानी अपने मुँह में गिरने देती है और बाकी का अपने ब्रैस्ट पर।

सलोनी बिना किसी शर्म के पूरी तरह चादर से बाहर आ अपने घुटनों के बल होकर मेरे लण्ड को अपने मुँह में दबा कर चूसने लगी. മലയാളം സെക്സ് സ്റ്റോറി देवा की मिठी बातें रत्ना के जिस्म में ऐसे घुलते है की रत्ना अपनी दोनों टाँगें खोल देती है और देवा भी इस मौके का फायदा उठाकर रत्ना की चूत को साडी के ऊपर से अपने लंड से दबाने लगता है।

चोदा चोदी साड़ी

  1. क्या हुस्न है , क्या हया है, क्या महोब्बत है, क्या आशिक़ी है, क्या दीवानगी है। महोब्बत गर इतनी खूबसूरत है तो खुदा सबको बक्शे। बशर्ते महोब्बत जिस्मानी हो ना हो रूहानी ज़रूर हो।
  2. देवा;अपनी भाभी के होठो को चुमता हुआ अपने लंड को चूत की गहराइयों में उतारता चला जाता है इस बात से अन्जान की देवकी दरवाज़े के पास खड़ी सब देख रही है। सेक्स के बारे में दिखाइए
  3. सलोनी- तुम दोनों वहाँ क्यों बैठे हो… मेरे समीप आकर यहाँ बैठो!सलोनी ने पप्पू और कलुआ को भी अपनी दोनों तरफ़ बिठा लिया और वे दोनों टोप के ऊपर से उसके पेट और मम्मों को सहलाने लगे. बच्चे तो सभी भाग कर राज़ की नानी के मकान मैं छिप गये लेकिन राज़ वहीं खड़ा रहा। उस आदमी ने आते ही राज का गर्दन के पीछे से शर्ट पकड़ लिया। उसके इतना करते ही राज़ की नानी आ गयी।
  4. മലയാളം സെക്സ് സ്റ്റോറി...किरण जो देवा की राह उस दिन से देख रही थी जबसे वो उसे अखिरी बार चोद के गया था । उस दिन से देवा वहां नहीं आया था। दरवाज़े की तरफ़ मेरी पीठ थी, मैं तो देख नहीं सका पर सलोनी ने तो जरूर देख लिया होगा.कोई भी हो, मुझे क्या फ़र्क पड़ता है, जो बाहर थे वे तीनों तो सलोनी को नंगी देख ही चुके थे, उसके साथ काफ़ी कुछ कर चुके थे.पप्पू और कलुआ ने तो सलोनी को जम कर चोदा था और जोगिंदर ताऊ ने भी कोई कसर नहीं छोड़ी थी.
  5. रत्ना;देवा के पास आती है और उसके बाल खीच के सटा सट सटा सट थप्पड की बौछार उसके मुँह पर कर देती है। पास में बैठी ममता भी ज़्यादा देर बच नहीं पाती और रत्ना ममता का मुँह भी लाल कर देती है। राज धीमे से कोमल के कान में बोलता है) प्लीज चिल्लाना मत मैं हूँ राज। तुमसे कुछ ज़रूरी बात करने आया हूं। हाथ हटाऊँ! अगर चिल्लाओ नहीं तो सर हाँ में हिलाकर मुझे इशारा दो।

ब्लू फिल्म चाहिए देखने वाली

खाना खाने के बाद देवा रत्ना को खेत में रात में रुकने का कहकर चला जाता है और रत्ना नीलम को अपने पास रात में रुकने के लिए बुला लेती है।

देवा;अब्बे डर मत बस धीरे धीरे तेरी माँ के और क़रीब होता जा । तू देख कुछ ही दिनों में वो खुद अपना लंहगा उतार के तेरे पास चलि आएगी। वो कुछ भी नहीं बोल रहे थे। बस एक एक करके उन्होंने पहले खुद के फिर मेरे सारे कपडे निकाल दिए। मै उस वक़्त तक सोचने समझने की शक्ति खो चुकी थी और सितम तो तब हुआ जब भाई ने अपनी ज़ुबान उस जगह लगाई जिसे आज तक मेरे सिवा किसी ने नहीं देखा था।

മലയാളം സെക്സ് സ്റ്റോറി,ममता को पता था की अगर उसने नूतन से अपने दिल की बात बता दी तो हो सकता है वो देवकी को बता दे और देवकी के पेट में तो कोई बात नहीं रहती। कही वो रत्ना के सामने अपना बड़ा सा मुँह न खोल दे।

और सिर्फ़ चूचियाँ ही क्यों… सलोनी के तो हर अंग से मादकता छलकती है… उसकी मक्खन सी गोरी जांघों के बीच सिंदूरी रंग की छोटी सी चूत… उसकी दोनों पंखुड़ियाँ आपस में ऐसे चिपकी रहती हैं जैसे प्रेमी और प्रेमिका का प्रथम चुम्बन…

मगर एक बार जब वो सीमा लाँघ कर सारी मर्यादा पार कर जाता है तो दुनिया की कोई भी दिवार उनके सामने आ जाये वो उसके पार हो जाते है।मराठी एक्स एक्स एक्स एचडी

रामु अपनी माँ और पत्नी के मुँह से गालियां सुनके पूरी तरह गुस्से में आ जाता है और अपने लंड को सटा सट सटा सट अपनी माँ की गीली चूत में डालते हुए कौशल्या की गाण्ड में भी दो उँगलियाँ पेलने लगता है। हमेशा लंड से दूर रही रुक्मणी के लिए ये रात उसकी ज़िन्दगी की सबसे हसीन रात होने वाली थी। ये बात सोच कर ही रुक्मणी बहुत गरम हो चुकी थी।

राज नहा कर फ्रेश हो जाता है और तब तक राज की मम्मी राज के लिए खाना बना लेती है। राज की मम्मी की नज़र जैसे ही राज पर पड़ती है वो राज को खाना खाने के लिए बुला लेती है। राज भी खाना खा कर अपने रूम में चल जाता है और सो जाता है।

ममता के रूम में घुसते ही रत्ना टक से अपनी ऑखें खोल देती है। शायद वो देखना चाहती थी की ममता जाती है या नहीं अपने भाई से मिलने,മലയാളം സെക്സ് സ്റ്റോറി सामने बैठी कौशल्या देवा के लंड को गाण्ड में जाता देख रही थी और उसका दिल भी ये सब करवाने के लिए उसे कह रहा था।

News