सेक्स फिल्म फुल मूवी

सुहागरात का मजा

सुहागरात का मजा, अपना ये जादू उसपर चलाया करो,जिसपर चलता हो....और हां ,यदि रात को रेलवे स्टेशन आ रहे हो तो 11 बजे पहुच जाना....कुच्छ इंपॉर्टेंट काम है...मुझे आने मे थोड़ा बहुत लेट हो जाएगा तो वहाँ से भाग मत जाना,मेरा इंतज़ार करना....अब सामने से हटो... अपन दोनो की शादी का...लेकिन उससे पहले एक काम करना है...ग्लास मे पानी डालते हुए मैं बोलानिशा के बारे मे कुच्छ पता करना है...

मुझे भूख नही है और मेरी तबीयत भी कुच्छ ठीक नही लग रही...इसलिए तुम अकेले ठूंस लो,मेरा मतलब अकेले खा लो... वैसे तो सीनियर्स की क्लास लगी हुई थी उस वक़्त, लेकिन कुछ ऐसे भी होते है, जो क्लास बंक करके कॅंटीन पहुच जाते है, जब हम कॅंटीन के अंदर गये तो वहाँ आइटम्स तो थी, लेकिन साथ मे हमारे सीनियर्स भी थे और वो ऐसे बैठे हुए थे जैसे कॉलेज उनके बाप का हो....

तुझे क्या लगता है, मैं यहाँ रोला झाड़ने के लिए आंकरिंग कर रहा हूँ...लवडे, एश थी,इसलिए मैं आया और अब तू किसी भी ऐरी गैरी को उठाकर लाएगा और बोलेगा कि ले, शादी कर ले इसके साथ तो मैं कर लूँगा क्या.... सुहागरात का मजा अरमान भाई, मैं हॉस्टिल छोड़ रहा हूँ...सोचा कि आपसे मिलता चलूं....सेकेंड एअर का एक लड़का मेरे सामने खड़े होकर बोला....

సెక్సీ వీడియో సెక్సీ

  1. ये तो दंमो रानी की क्लास है, ये दीपिका जानेमन कहाँ से टपक पड़ी...अंदर आकर मैं अपनी सीट पर बैठा और.....और कुछ नही किया सिर्फ़ बैठा ही रहा ,क्यूंकी दीपिका मॅम टेस्ट की कॉपी दे रही थी...
  2. गुडमॉर्निंग , फ्रेंड्स... आइ'म अरमान...एक मरी सी आवाज़ मेरे मुँह से निकली...जिसे सामने वाले बेंच पर बैठे स्टूडेंट्स ही सुन पाए होंगे..... वीडियो में ब्लू फिल्म सेक्सी
  3. कुछ वक़्त तो मैं शांत रहकर ये समझने की कोशिश करने लगा कि ,आख़िर हो क्या रहा है, सभी वहाँ आस-पास बैठे हुए वेलकम पार्टी का मज़ा ले रहे थे.... कल की तरह मैने आज भी कॉलेज के ऑफ होते ही सौरभ को पटाया ताकि वो कुच्छ बहाना मारकर अरुण को अपने साथ ले जा सके और आज मेरा बहाना बना 'छत्रु के साथ इंपॉर्टेंट टॉकिंग '
  4. सुहागरात का मजा...मैने कब कहा कि मैं तुझे मोबाइल देने के लिए रोक रहा हूँ...और साले मैने मिन्नत कब की तेरे सामने....कार से निकल कर वरुण मुझे धक्का देते हुए बोला.... जैसे जैसे वक़्त बीत रहा था वैसे-वैसे मेरा दिमाग़ भी सटक रहा था और जब पूरे दो घंटे तक बाल्कनी मे खड़े रहकर निशा की कॉल का इंतज़ार करते रहने के बाद भी जब उधर से कोई कॉल नही आया तो मैने गुस्से मे वरुण के मोबाइल को ही स्विच ऑफ कर दिया.....
  5. ओके थॅंक्स...(अबे घोनचू...अब मैं सर्पगंधा का पेड़ लेने जाउ...म्सी यदि इतना ही गान्ड मे गुदा है तो जाकर ले आना...) ना...मैं क्यूँ कुच्छ करूँगा...मुझे तो ये सब देखकर बहुत मज़ा आता था....मेरा मन करता था कि साली को सबके सामने नंगा करके बेल्ट से खूब मारू और फिर उसके मुँह मे मूठ मार दूं....वैसे तेरा नाम क्या है...

दूध दबाने वाला वीडियो

इतना उदास होने की ज़रूरत नही है क्यूंकी तूफ़ानो से हमेशा पेड़ नही गिरते, कभी-कभी तूफान पेड़ की जड़े मज़बूत भी कर देते है...अब चलता हूँ

उन दिनो मैं हवा मे उड़ रहा था ,लेकिन शायद मैं भूल गया था कि जो चीज़ उपर जाती है ,वो ग्रॅविटी के कारण नीचे भी आती है.ये मैने फिज़िक्स मे पढ़ा था और कोई भी फिज़िक्स के खिलाफ नही जा सकता.....फिर चाहे वो मैं ही क्यूँ ना हो, यानी कि मुझे एक दिन ज़मीन पर आना ही था. एश जान....तुम यही खड़ी रहना, मैं देखता हूँ कि कल का आया ये क्या करता है...कहते हुए उसने एक बार और भू को मारा....

सुहागरात का मजा,मेरी बेरूख़ी और दीपिका मॅम को देखने की वरुण की चाह काम कर गयी....मैं अभी थोड़ी ही दूर आगे आया था कि वरुण ने कार आगे बढ़ा कर मेरे बगल मे रोक दी...

गान्ड मरा तू...मुझसे क्या पुच्छ रहा है. कोई आए चाहे ना आए लेकिन यदि इन लोगो ने मुझे फिर मारा तो लवडा मैं सॉफ बोल दूँगा कि इसमे तेरा हाथ था, हमलोग को छोड़ दो...

आवाज़ मुझे पहचानी सी लगी और मैं जानता भी था कि इस आवाज़ का मालिक कौन है ,लेकिन फिर भी मैने कन्फर्म करने के लिए उपर की तरफ देखा...कामसूत्र सेक्सी व्हिडिओ

वरुण के इस सवाल का जवाब देना मेरे मुश्किल कामो मे से एक था,लेकिन उसे सच तो मालूम ही पड़ता,आज नही तो कल मैं खुद उसे ये सच बताने ही वाला था...मैने एक सिगरेट सुलगाई और लंबा कश लेने के बाद बोला.. कोई नही...रात को 12 बजे जब सब सो जाएँगे तब मैं कॉल करूँगी ,मेरे पास एक एक्सट्रा मोबाइल है अभी के लिए बाइ...

तू खिड़की के पास ही खड़ा है तो क्या तूने सूरज को ढलते हुए नही देखा...बेटा बाहर नज़र मार ,रात हो चुकी है...अब चल जल्दी से,वॉर्डन भी वहाँ अमर सर के रूम मे मौज़ूद है...

मॅम....बड़ी हिम्मत जुटानी पड़ी उसे रोकने के लिए, इस वक़्त मैने उनकी कमर को कसकर पकड़ रक्खा था और उनकी तरफ देख रहा था....,सुहागरात का मजा रॅगिंग सुनकर गला सुख गया, उस समय यही एक चीज़ थी जो मुझपर हावी थी, जब से मैं कॉलेज कॅंपस के अंदर घुसा था, यही चीज़ मुझे डरा रही थी....

News