कल्याण चार्ट मिलन चार्ट

पॅन कार्ड काढण्यासाठी लागणारी कागदपत्रे

पॅन कार्ड काढण्यासाठी लागणारी कागदपत्रे, हां चूस अब, जैसे संतरे की फांक चूसती है ना वैसे ही पहले हल्के-हल्के। हां, अब कस-कसकर… हां, अब जीभ अंदर ठेल, हां हां ऐसे ही… राहुल सीधा वॉशरूम की तरफ गया ...काफ़ी बड़े वॉशरूम के अंदर ही अलग से दरवाजा लगा कर टाय्लेट बनवाया हुआ था...राहुल अंदर जाकर कमोड पर अपने लंड को निकाल कर खड़ा हो गया और मूतने लगा.

तब तक मुझे याद आया की मैंने हैंडीकैम भी तो रख छोड़ा है और इससे बढ़ के क्या मौका हो सकता है अपनी प्यारी ननद की तस्वीर उतारने का। मैंने उसे छेद में लगाकरके चला दिया। रजनी अपना हाथ बढ़ा के अपने भतीजे को सहलाने लगती है… उसने ये महसूस किया की उसके भतीजे का लंड उसकी चूत में पूरी तरह अंदर तक घुसाने के बाद भी…. करीब 1.5 इंच बाहर है….

मैं अपने कमरे में सोया हुआ आने वाले भविष्य की संभावनाएं तलाश रहा था की दोनो परिया मेरे कमरे में दाखिल हुई.. पॅन कार्ड काढण्यासाठी लागणारी कागदपत्रे अपने भतीजे मुंह से ऐसी बात सुन के अनिल को बेहद गुस्सा आता है और वो आगे तरफ के अपने भतीजे का गिरेबान पकड़ लेता है…

माहेरची साडी पिक्चर माहेरची साडी पिक्चर

  1. वो थोड़ा और जोर लगाती है इस बार वो झुककर अपने वक्षो की घाटी में उसके सर को घुसा देती है ,इसे देखकर तो मेरा भी लिंग अकड़ गया था ,क्योकि काजल की गोरी गोरी और बड़ी सी उस खाई में ठाकुर का काजला सा मुह बड़े ही अजीब तरीके से मुझे भी उत्तेजित कर रहा था ,
  2. खाने में, खाने में उन्हें नान-वेज बहुत अच्छा लगता है और नान-वेज में सब कुछ, तंदूरी चिकेन, मटन कोरमा, बिरयानी… मराठी सेक्स ओपन मराठी सेक्स ओपन
  3. जीभ की बस नोक से वो उस कलि के लेबिया के किनारे किनारे...और दो चार बार चाटने के बाद उसी तरह. ..दोनों निचले होंठों को अलग कर जीभ अन्दर पेबस्त हो गई और उसने कस के अपने दोनों होंठों के बीच. ..कम्मो के निचले होंठों को....कभी वो हलके हलके चूसते तो कभी कास के उन संतरे की फानकों का रस लेते... और वहीं दूसरी तरफ गुप्ता जी भी अपनी बीबी को देखकर हैरान हुए जा रहे थे.... आज उनकी वाइफ बीच मैदान नंगी खड़ी होकर जिस तरह की हरकतें कर रही थी उससे सॉफ पता चल रहा था की उसके अंदर कितनी चुदासी भरी पड़ी है....
  4. पॅन कार्ड काढण्यासाठी लागणारी कागदपत्रे...वो शरमा गयी. थॅंक यू, बेबी. नही अभी कोई नही है. मैं अभी अपनी रिसर्च मे ही पूरा ध्यान दे रही हूँ. एक लड़का था जिसके साथ मैं 2 3 डेट्स पर गयी लेकन बात कुछ आगे नही बढ़ी. लेकिन मुझे कुछ महीनो के बाद जाना पड़ता है तो रिलेशन्षिप बनाए रखना मुश्किल है. अरे गधा, घोड़ा, सब कुच्छ मैं हँसते हुए बोली और गाने के लिए ढोलक अपनी और खींची. अल्पी मेरी बड़ी ननद लाली की ओर इशारा करके बोली, दीदी आप नही थी ना तो मुझे अकेले
  5. अबकी उसके यार को कोई जल्दी नही थी. जैसे किसी भूखे को बहोत दिनों के बाद खाना मिले और वह पहले तो खूब जल्दी जल्दी खाए और फिर एक एक नीवाले को मज़ा ले ले के खाए वही हालत उसके यार की हो रही थी. कल मैं उसे देख रहा था और वो ममुस्कुरा रही थी और आज वो मुझे देख रही थी और मैं मुस्कुरा रहा था,मैं कुटिल मुस्कान से उसे देख रहा था,उसका चहरा ये सब देखकर लाल हो चुका था ,उसकी आंखे बड़ी हो गई थी ..

এটেল সেক্স ভিডিও

हँस कर बैगन लेते हुए वो बोली. वो ड्रेस ठीक करने लगी तो मैने मना कर दिया और कहा कि तुम बिना ब्रा और पैंटी के ही जैसे हो वैसे ही रहोगी ये मेरा हुक्म है,और उसके टाप के जो बटन उसने बंद किए थे वो सब मैने खोल दिए.

राहुल: (हैरान था की मैं उसकी दीदी को भाभी बुला रहा था और उन्हें अध्नंगी किये अपनी गोदी में बिठाये उनके स्तनों को मसल रहा था।) थैंक्स मधु दीदी एंड सुनील जी। चोर की दाढ़ी में तिनका, अरे मैंने उसका नाम तो लिया नहीं तुमने खुद कबूल कर लिया की वह माल वही है, और फिर ‘इंटर में पहुँची है’ इसका मतलब? इंटरकोर्स के लायक हो गयी है…

पॅन कार्ड काढण्यासाठी लागणारी कागदपत्रे,राहुल ने आज सुबह ही उसे चोदा था इसलिए उसके गद्राये गदराये हुए बदन को देखकर उसका लंड एक बार फिर से खड़ा हो गया...ये सोचकर की वो इन सेक्सी कपड़ो में जिस जिस्म को छुपा रही है, वो उसने आज सुबह ही नंगा देखा है.

भाभी: और तुम लोगों से मुझे बांटों। इतना चाहते हो इस बदन को तो क्यों उस लड़के हाथ लगाने दिया था इसे| (भाभी के आवाज़ में अभी भी निराशा थी)

तुम्हारी बहनों और मेरी छिनाल ननदों के लिये, उन्हें रमोला बनाकर और लिम्का में मिलाकर पिलाऊँगी और चूतड़ मटका मटकाकर नचवाऊँगी…দেশি বৌদির চোদোন

राज अपनी आंटी की बात को अनसुनी कर के अपना लंड आंटी की छोटी सी पैंटी में घुसाने लगता है… इसका नतीजा ये होता है की पैंटी फॅट जाती है… शशांक ने शरारती हँसी से सबा की आँखो मे झाँका, दोनो की नज़रे मिली और आँखो ही आँखो मे सबा ने उसे ऐसा ना करने को कहा...लेकिन उसके मना करने के बाद भी शशांक ने बात शुरू कर ही दी..

मैं वो सब सोच कर एक गहरी सांस ली ,और निशा की तरफ देखा ,काजल इसी उम्र की थी जब हम दोनो प्यार में पड़ गए थे,ये उम्र होती ही ऐसी है …..

सबा भी उसकी सकिंग पावर से उसके मुँह की तरफ खींचती चली गयी...और अपने पंजों पर खड़ी होकर अपना पूरा का पूरा मुम्मा उसने मुँह में घुसेड़ दिया...और साथ ही साथ एक सुरीली और सेक्सी आवाज़ में कराह भी उठी...,पॅन कार्ड काढण्यासाठी लागणारी कागदपत्रे उसके सामने वो मुझे और कुछ बोल भी तो नही सकती थी,मैं उसे गुस्से से देखने लगा शायद वो मेरे मन की दशा समझ चुकी थी ..

News