हिंदी चोदा चोदी सेक्सी वीडियो

सेक्सी चुदाई जंगल

सेक्सी चुदाई जंगल, रश्मि- अपने दाँत किटकिताते हुए भैया आज तो गरम कॉफी भी ठंडी लग रही है अब चलो रूम में जाकर सो जाते है बहुत ठंड है मेरी तो जान ही निकली जा रही है पता नही आज नींद कैसे आएगी कामिनी- मेरा मन तो अभी चूसने का कर रहा है पर मेरे पेट मे ना जाने क्यो सुबह से थोड़ा दर्द बना हुआ है ज़रा

राज- संगीता अभी तो 6 बजे है, चल एक बार और तुझे मज़ा देता हू फिर हम घर चलते है, उसके बाद मैने संगीता को उठा कर वही जीन्स के उपर घोड़ी बना दिया और इस बार मैने उसकी गुदा और चूत को फैला कर जब चाटना शुरू किया तो संगीता मस्ती मे अपनी गंद हिलाने लगी, पानी बहने लगा है तू जितना मेरी गंद मे उंगली गहराई तक पेलता है मेरी चूत से उतना ही पानी आने लगता है यह

रोहन को जैसे मोका मिल गया। वो अब जानबूझ कर अपनी बाइक खड्ढों में से ले जाने लगा और बिंदिया की नरम और बड़ी चूचियों का मजा लेने लगा। घर के पास पहुँचकर उसने हमको बाइ कहा और चला गया। सेक्सी चुदाई जंगल मैं पार्टी का पूरा वर्णन ना कर के सिर्फ़ इतना बता दूं कि पार्टी आधी रात तक चली थी. मैं अपने मा बाप और मेरे पति के मा बाप की खुशी देख कर खुश थी. दोनो ही परिवार हमारी शादी से खुश थे.

ગુડ મોર્નિંગ ફોટો

  1. मेरा बदन झटके खाने लगा और मेरी आँखें बंद हो गई, और मैं- आअह्ह्ह... ऊओह... करते हुए सोनू के चहरे को भिगोने लगी।
  2. हबीब चाचा:तो ठीक है उसे भी साथ ले चलते हैं…..और सुनो आज रेड साड़ी पहन कर आना…सिर्फ़ साड़ी अंदर कुछ नही. पिला पिला पिला
  3. मैंने सुशीला को कहा- देखा … जिसके लिए तुम रहम की भीख मांग रही थी, वो कैसे अपनी गांड उछाल उछाल के चुद रही है। ठाकुर- क्या कहा, चलो मेरे साथ? ठाकुर ने गुस्सा होकर बाहर निकलते हुए कहा। ठाकुर ने खुद कार में बैठकर अपने लोगों को अपने पीछे आने के लिए कहा। ठाकुर को मन ही मन में धन्नो पर बहुत ज्यादा गुस्सा आ रहा था की आखिर उसने ऐसा क्यों किया?
  4. सेक्सी चुदाई जंगल...रश्मि- अरे में मज़ाक नही कर रही हूँ, अगर तू अपने पापा से चुद जाएगी तो तुझे क्या दिक्कत रहेगी आराम से घर में ही तुझे तगड़ा लंड खाने को मिल जाएगा, अच्छा ये बता क्या तेरे पापा हॅंडसम नही है ठाकुर ने अपने हाथों से शिल्पा की चूत के पतले होंठों को आपस में से अलग करते हुए अपने लण्ड को उसकी चूत के लाल छेद में सेट कर दिया और शिल्पा की टाँगों को अपने हाथों से पकड़ते हुए अपने पूरे शरीर का दबाव शिल्पा की चूत पर डाल दिया।
  5. है सच कहु उस समय तेरी गान्ड तेरी मा की मोटी गान्ड से भी भारी लग रही थी, मेरा तो दिल करने लगा था कि मे पीछे से अपना मुँह अपनी बिटिया की भारी गान्ड मे डाल डु, रवि- उसे अपने सीने से दबाते हुए तो क्या हुआ तू तो मेरी बेटी है और फिर अभी तू कौन सी बड़ी हो गई है अभी तो तू बच्ची ही है, बोल पहन कर दिखाएगी ना

मौसम अगले हफ़्ते उत्तर प्रदेश

उधर रामू चाची की मोटी गंद के नीचे हाथ डाल कर उसे उपर उठाए हुए उसकी चूत मे सतसट लंड पेल रहा था और रुक्मणी अपनी मोटी जाँघो को रामू की कमर मे लपेटे खूब मस्त तरीके से चुद रही थी उपर से रामू धक्का मारता तब रुक्मणी नीचे से अपनी गंद उठा कर रामू के लंड पर अपनी चूत का धक्का मार देती,

ठाकुर- साली छिनाल, जबान लड़ाती हो। अपने यार को अपना प्यार कहती हो। अपनी माँ की तरह तुम्हें ज्यादा ही गर्मी है... ठाकुर ने एक जोरदार थप्पड़ धन्नो के गाल पर मारते हुए कहा। मोहित मेरी बात सुनकर बहुत ज्यादा उत्तेजित हो गया और मेरे ऊपर चढ़कर मेरे गुलाबी होंठों को चूमने और चाटने लगा। मैंने अपनी जीभ निकालकर उसके मुँह में डाल दी जिसे वो अपने होंठों से चाटने लगा।

सेक्सी चुदाई जंगल,बिस्तर पर लेट कर मैं मेरे पति का इंतज़ार करने लगी. गेस्ट रूम सीढ़ियों के बगल मे ही था और मैने गस्ट रूम का दरवाजा अपने पति के लिए खुला ही रखा था. गेस्ट रूम की लाइट मैने बंद कर दी थी पर बाहर से रोशनी की एक लकीर खुले दरवाजे से अंदर आ रही थी. थोड़ी देर बाद मेरे पति चुपके से गेस्ट रूम मे आए.

राज - हाँ रश्मि मेने तो रात भर मम्मी की चूत और मोटी गान्ड को खूब दबोच-दबोच कर सहलाया था, मम्मी बहुत ही सेक्सी है उसको तो पूरी नंगी करके चोदने में मज़ा आ जाएगा,

अपनी चूत को तेज़ी से रगड़ती हुई, तेज़ी से चूत मे उंगली अंदर बाहर करती हुई, चूत के दाने को मसल्ति मैं जहाँ पहुँचना चाहती थी वहाँ पहुँच चुकी थी. मैने अपने पैर भींच लिए और मेरी उंगली अभी भी मेरी चूत मे थी. मेरी आँखें आनंद से बंद हो गई. ये बहुत ही जोरदार हस्त्मैथून था.भारत के नए शिक्षा मंत्री कौन है

ठाकुर ने कविता को चुप खड़ा देखकर उसे ज्यादा गरम करने के लिए उसके मुँह को खोलकर उसकी जीभ को अपने मुँह में भरते हुए जोर-जोर से चूसने लगा, और अपने एक हाथ को उसके ब्लाउज़ के ऊपर से ही उसकी एक चूची को पकड़कर सहलाने लगा। चंदा- तुम चलो मैं तुम्हे आज मस्त चुदाई दिखाती हू और फिर चंदा संगीता का हाथ पकड़ कर रामू के गन्नो के खेत की ओर ले गई जहाँ हरिया सुधिया के सामने बैठा बाते कर रहा था, हरिया बार बार सुधिया को अपने लंड का टोपा खोल खोल कर दिखा रहा था और सुधिया अपने काम मे लगी हुई मंद मंद मुस्कुरा रही थी,

जाएगे, तुम देखना रामू दिन भर घर मे ही घुसा रहेगा, पर एक बात कहु लड़की थोड़ी बड़ी उमर की लेकर आना क्यो कि

सब्ज़ी वाले ने कहा- मेमसाहब मेरा नाम सुरेश है और मुझे प्यार से सभी सोनू बुलाते हैं और मैं डेली सब्ज़ी लेकर आता हूँ, डेली बड़ी वाली मेमसाहब मुझसे सब्ज़ी लेती हैं, वो आज नजर नहीं आ रही...,सेक्सी चुदाई जंगल शिल्पा- छोटे ठाकुर चाय टेबल पर है, दूध रात को पी लेना.. शिल्पा ने रवी को अपनी चूचियों की तरफ घूरता हुआ देखकर उसे टोकते हुए कहा।

News