झिंग झिंग झिंगाट सॉन्ग

आयुर्वेदिक औषध सांगा

आयुर्वेदिक औषध सांगा, सॅटर्डे तक हम लोग घर जाने से पहले डिस्कशन करने के लिए रेडी होंगे. डॉली और तान्या दोनो उम्मीद भरी नज़रों से राज की तरफ देखने लगी. नानाजी को जब ये दिखा तो उनके होश उड़ गए। वो टैंक से 5 फ़ीट दुरी पर होंगे वो सब साफ़ साफ़ देख सकते थे। उन्होंने काम छोड़ दिया और हमें देखने लगे। नेहा इतरा इतरा के उन्हें सब दिखा रही थी। कभी अपने चुचिया तो कभी अपनी गांड । मेरे कपडो में से कुछ नहीं दिख रहा था । मुझे नेहा पे बड़ा ग़ुस्सा आया।

प्रिया के गोल गोल उभारों का स्पर्श मुझे उत्तेजित सा कर रहा था… लेकिन साथ ही उसकी बातों से मेरा कौतूहल बढ़ता जा रहा था… मैं सोचने पर विवश हो गया कि आखिर ऐसी क्या खबर होगी… तान्या को मालूम था कि आज उसकी चूत में लगी ये आग, किसी रब्बर के लंड या उसकी अपनी उंगलियों से नही, बल्कि एक असली मर्द के लंड से शांत होने वाली थी. तान्या की चूत पनियाने लगी थी, और वो असली लंड को अपने अंदर लेने के लिए लालायित हो रही थी.

मैं:= ओह्ह्ह्ह उम्म्म नानाजी मैं भी आपके लंड को ऐसा मजा दूंगी की आप मेरी चूत की याद में खिचे चले आएंगे मुम्बई मुझे चोदने...... आयुर्वेदिक औषध सांगा बुआ, आप को मालूम ही है, आज कल की ये पढ़ी लिखी लड़कियाँ कितनी तेज हैं, शादी से पहले चुदाई को तय्यार ही नही होती, कहती हैं, बस उपर उपर से ही कर लो, किसी तरह मैने असलियत छुपाने की कोशिश की.

भाभी की देसी चुदाई वीडियो

  1. मामाजी:=क्या हुआ माधवी। मैंने तुम्हे छुआ तो अच्छा नहीं लगा तुम्हे? उस दिन तो जब बाबूजी तुम्हे छु रहे थे तुम्हे मजा आ रहा था? मामाजी ने मेरा हाथ पकड़ के धीमी आवाज में कहा।
  2. sun tanzima kaki aa rahi hai tu apna mood theek kar le aur oonke saamne aise royega to kya beetegi oonpe hat? త్రిబుల్ ఎక్స్ హెచ్ డి
  3. बता ना राजू क्या करते है गर्लफ्रेंड बाय्फ्रेंड आपस मे मिली बोली और कपड़े के उपर से ही मेरा लंड पकड़ लिया तू नही समझेगा और अभी मेरे पास समझने का टाइम नही है अपना दिमाग़ मत चला और जैसा मैं कह रही हूँ वैसा कर बाद मे मैं तुझे सब समझा दूँगी मिली बोली
  4. आयुर्वेदिक औषध सांगा...मैं देख सकता हूँ, तुम्हारे पास क्या है, वो बोला, और उसकी चूंचियों को दोनो हथेलियों में भर लिया, और उसके कड़क खड़े निपल्स को उस हल्के से कपड़े के उपर से अपनी हथेलियों में महसूस करने लगा. तान्या खिलखिलाई और बोली, जवाब बहुत अच्छा है, लेकिन गीजर का पानी अब ठंडा हो रहा है, जल्दी करो और बाहर निकलो यहाँ हैं.
  5. वो दोनों भी कुछ ही देर में झड़ गए। नानाजी ने अपना सारा पानी नेहा की गांड में छोड़ दिया। नानाजी भी बेड पे लेटके जोर जोर से साँसे लेने लगे। नेहा भी इस दमदार गांड चुदाई के बाद मस्त हो चुकी थी। ओह! हां ऐसे ही! ऐसे ही करते रहो! वो किसी तरह अपनी गान्ड को बेड पर से उछालते हुए बोली, और चूत के दाने को धीरज की जीभ के उपर दबाने लगी. धीरज चूत के दाने को चूसे जा रहा था, और उसने अब दो उंगलियाँ डॉली की पनिया रही चूत में घुसा दी थी.

அம்மா ஓழ் கதைகள்

लौट कर उमा मौसी किचन में ब्रेकफास्ट बनाने लगी, और फिर हम दोनो जब डाइनिंग टेबल पर बैठ कर शांति से ब्रेकफास्ट खा रहे थे, और एक दूसरे की तरफ देख भी नही रहे थे. ब्रेकफास्ट करने के बाद मैं अपने रूम में चला गया.

प्रिया तड़प तड़प कर अपनी कमर उठा रही थी और चूत की चुसाई का भरपूर आनंद ले रही थी। अब मैंने फिर से रस का कटोरा लिया और अपने एक हाथ की दो उँगलियों से उसकी चूत का मुँह खोलकर उसके गुलाबी छेद में ढेर सारा रस भर दिया। उसकी चूत का मुँह छोटा सा था इसलिए ज्यादा रस अन्दर नहीं जा सका और बाहर की तरफ बह निकला। संध्या ने एक गहरी साँस ली और बोली, आ तो जाती, लेकिन भैया बाहर वेट कर रहे हैं... इतना कहकर वो मेरी तरफ देखती हुई रूम से बाहर निकल गयी, और मैं उसे बस निहारते हुए देखती रही. कुछ देर बाद मुझे मेन डोर के बंद होने की आवाज़ सुनाई दी, और फिर यकायक पूरा घर सूना सूना हो गया.

आयुर्वेदिक औषध सांगा,नेहा:- उम्मम्मफ़्फ़्फ़्फ़्फ़् स्स्स्स्स् बस आ जाये दोनों जल्दी से उफ्फ्फ्फ्फ़ और सीधा लंड डाल दे अंदर उम्म्म

थोड़ी देर बाद ही वो दोनो ज़ोर ज़ोर की आवाज़े निकालने लगे मैं समझ गया कि अब इनकी चुदाई ख़तम होने वाली है इसलिए मैने मिली का हाथ पकड़ा और उसे भी खड़ा कर लिया और बिना कुछ बोले ही हम वहाँ से वापस चल दिए

अब नानाजी मुझे अपने घुटनो के सहारे आगे की तरफ झुकाया और पीछे जाके मेरी गांड के फाको को फैलाने लगे। मुझे लगा की शायद वो मेरी गांड मारना चाहते है।மசாஜ் செக்ஸ் வீடியோ

क्या तुमने सचमुच धीरज के साथ चुदाई की है? राज चीखते हुए बोला, और तान्या उसके बेतुके सवाल पर अचंभित होकर उसको देखने लगी. फिल्म देखने के बाद शायद मिली की भी नींद उड़ गई थी वो एक टक छत को घुरे जा रही थी मिली को ऐसे देखते देखते पता नही कब मुझे नींद ने आ घेरा और मैं सो गया..........

haan yaar tu to sonal ko chahta tha...........faraz ne ashu ki taraf dekha jo oose aaj ghar ke kalesh ki wajah bata raha tha

राजेश उसके बदन से थोड़ा अलग हुआ ताकि वो आराम से उसकी चूचियों का मज़ा ले सके। रिंकी ने अपने दोनों हाथ ऊपर कर लिए और राजेश के बालों में अपनी उँगलियाँ फेरने लगी। राजेश ने अपने दोनों हाथों से उसकी दोनों चूचियों को पकड़ लिया और उन्हें प्यार से सहलाने लगा। रिंकी के मुँह से लगातार सिसकारियाँ निकल रही थीं।,आयुर्वेदिक औषध सांगा tu agar mera bhatija hai to main teri chachi hoo samjhaaa tere saare iraade bhaanp gayi thi main tere maa baap itna dair se tujhe call kar rhe hai aur tu oonhein taaalte jaa raha hai

News